ALL मध्य प्रदेश देश विदेश भोपाल खेल लाइफस्टाइल बाजार क्राइम मनोरंजन साहित्य
मांगा इंसाफ तो किसान को जड़ दिया चांटा,  चुरहट अनुविभागीय अधिकारी पर आरोप 
November 22, 2019 • ABHISHEK SHARMA • मध्य प्रदेश

 Apna Lakshya News

किसान ने की प्रभारी मंत्री से शिकायत जांच के निर्देष 


दबंग रिपोर्टर,सीधी। किसनों को इसाफ के लिये भटकने नही देनें का वायदा कर सत्ता मे पहुंची कांग्रेस सरकार के अधिकारियों पर नियंत्रण नही बन पा रहा है वे किसानों पर जुल्म ढाने से बाज नही आ रहे है किसनों का अपना हक मागना मंहगा पड़ रहा है उन्हे अधिकारियों की आर्थिक यातनायें तो सहनी ही पड़ रही थी अव शारीरिक यातनाएं भी अधिकारी देने लगे है ऐसा ही मामला सीधी जिले के चुरहट के पुतरिहा गांव का सामने आया है जहां के किसान ने एस डी एम से न्याय की गुहार लगाई तो उसे लात घुंसे से मारकर प्रताणित किया गया है। जिसकी शिकायत उसने कलेक्टर सहित प्रदेष के खनिज मंत्री व सीधी के प्रभारी मंत्री से की गई है मामले की जांच के निर्देष दिये गये है। किसान छोटेलाल पटेल निवासी पुतरिहा की माने तो बांणसागर नहर का निर्माण उसके खेत में किया गया है 50ढिसमिल जमीन मे नहर बना दी गई है उसके मुआवजे के लिये बीते चार सालों से वह चुरहट एस डी एम कार्यालय का चक्कर लगा रहा है लेकिन उसे इंसाफ नही मिल रहा है। मंगलवार को छोटेलाल चुरहट एसडीएम से मुलाकात कर न्याय की गुहार लगाई तो एसडीएम भड़क कर गाली गलौच करने लगे जव किसान ने इसाफ मिलने तक दफ्तर आते रहने गाली सहते रहने की बात कह दी तो एसडीएम आर के मेहता तैस मे आ गये उन्होने आम आर्थिक मार झेल रहे किसान को लात घूंसों से पीटने लगे किसान के हल्लागुहार करे पर अन्य लोगों ने बीच बचाव कर किसान की जांन बचाई है जिसकी शिकायत बु़द्धवार को कलेक्टर से करने के साथ प्रभारी मंत्री से करके न्याय की गुहार लगाया है।   


किसान का ए है आरोप 


पीड़ित किसान छोटे लाल पटेल का आरोप है कि उसकी जमीन नहर बना दी गई है उसका मुआवजा बनाने की फरियाद किया था मुआवजे की फाईल कभी इस अधिकारी के पास तो कभी उस अधिकारी के पास होने की बात कहकर बीते चार साल से भटकाया जा रहा है मंगलवार को दोपहर मे चुरहट तहसील पहुंचकर फाइल के सम्बंध मे पूंछ तांछ किया तो एस डी एम के पास होने की जानकारी दी गई किसान जव उनसे अपने मुआवजे की फाइल की जानकारी मांगी तो एसडीएम भड़क गये और लात घूंसे से मारने लगे अव न्याय के लिये के कलेक्टर और मंत्री के पास आये है इसी तरह की गुहार दिवाकर सिंह चैहान आरोप है वे अपनी जमीन मे डेयरी फार्म संचालित कर परिवार का भरण पोषण कर रहा था तो महान नहर परियोजना से नहर बनाने उनका फर्म ध्वस्त कर दिया गया अव मुआवजे के लिये भटकाया जा रहा है।

मारपीट अभद्रता के लिये चर्चित है चुरहट एसडीएम 


किसानों के साथ साथ फरियाद लेकर जाने वाले आम लोगों से मारपीट व अभद्रता के लिये चुरहट एसडीएम आर के मेहता चर्चित होते जा रहे है उनकी शिकायतें पहले भी हो चुकी है आरोप है किसान अथवा पीड़ित उनके दफ्तर अपना हक मांगने जाते है तो वे बदसलूकी करने लगते है कई लोगों से मारपीट व बदसलूगी कर चुके है बताया गया कि पीड़ित जन अनुविभगीय अधिकारी से प्रताड़ित होकर भी अब तक पुलिस मे षिकायत दर्ज कराने की हिम्मत नही जुटा सके है हां अधिकारियों से गुहार जरूर लगाई है लेकिन उनके खिलाफ कार्यवाही ही हिम्मत कोई नही जुटा पा रहे है इस मामले की शिकायत जरूर मंत्री से हुई पर पुलिस से नही हुई अव देखना है कि मंत्री के संज्ञान में आने के बाद सिंहम बनने की फिराक मे बैठे एसडीएमें पर क्या कार्यवाही होती है या फिर पूर्व की तरह गुहार करूणांभवन तक सीमित होकर रह जायेगी। 

इनका कहना है। 


किसानों के साथ मारपीट कर उत्पीड़ित करने की शिकायत मिली है जिसके लिये कलेक्टर को ठोस कार्यवाही करने का निर्देष दिया हूं किसानों के साथ मारपीट करना अभद्रता करना किसी हाल में बर्दास्त नही किया जायेगा न्याय दिलाना प्रदेष सरकार की प्रथमिकता मे है। 
प्रदीप जायसवाल खनिज व प्रभारी मंत्री सीधी। 

एसडीएम का कहना है। 


कोई मारपीट नही हुई है शिकायत करना तो करते रहे मै जांच के लिये तैयार हूं जांच हो जाने दो सच्चाई सामने आ जायेगी। 
आर के मेहता एसडीएम चुरहट सीधी।